Breaking News

कोरोना के लक्षण बदलने का मतलब यह नहीं कि वायरस बदल रहा है, लक्षण कुछ लोगों में कम दिखते हैं और कुछ में ज्यादा : एक्सपर्ट

क्या वाकई कोरोना के बदलने से लक्षण में भी बदलाव आ रहा है? लॉकडाउन के दौरान मानसिक तनाव से कैसे निपटें? ऐसे कई सवालों के जवाब डॉ. देश दीपक, सीनियर चेस्ट फिजिशियन, राम मनोहर लोहिया अस्पताल, नई दिल्ली ने आकाशावाणी को दिए, जानिए कोरोना से जुड़ी का शंका का समाधान....

#1) क्या कोरोनावायरस अपना रूप बदल रहा है और इसके नए लक्षण क्या हैं?
कुछ मरीजों में बुखार, खांसी और सांस लेने में तकलीफ के अलावा कंपकंपी लगना, खाने का स्वाद न महसूस होना, गंध का पता न चलना जैसे लक्षण दिखाई दिए हैं। इसका मतलब यह नहीं है कि वायरस अपना रूप बदल रहा है बल्कि यह कह सकते हैं कि कुछ लोगों में ये लक्षण कम दिखते हैं तो कुछ में ज्यादा।

#2) भारत में संक्रमण के दोगुने होने की रफ्तार 11 दिन है, इसका क्या मतलब है?
पहले वायरस के संक्रमण के मामले दोगुने होने में 4 से 5 दिन लगते थे अब यह रफ्तार धीमी होकर 11 दिन हो गई है। यह एक तरह टूल है जिससे वायरस की गंभीरता को मापा जा सकता है। इसी के आधार पर इलाज के लिए इंतजाम किए जाते हैं।

#3) बतौर विशेषज्ञ मरीजों की संख्या पर क्या कहेंगे?
देश में मरीजों की संख्या बढ़ रही है लेकिन साथ में ठीक होकर घरभी जा रहे हैं। कई मरीज ऐसे हैं जिनमें लक्षण न के बराबर हैं यावे एसिम्प्टोमेटिक हैं। ऐसे मरीज 80 तक हैं। इसके अलावा जोवायरस से गंभीर रूप से बीमारहैं वो करीब 10 फीसदी या उससेभी कम हैं।

#4) लॉकडाउन बढ़ गया है, ऐसे में मानसिक तनाव से कैसे निपटें?
वायरस ने एक तरह से यही सिखाया है कि इस तरह की परिस्थितियों से कैसे निपटें। अगर आप वायरस से बचने के लिए सभी निर्देशों का पालन कर रहे हैं तो तनाव लेने की जरूरत नहीं। कई लोग इस बात से चिंतित रहते हैं कि कहीं मैं संक्रमित न हो जाउं। तनाव और चिंता को हावी न होने दें। लॉकडाउन सभी की जिंदगी को बचाने के लिए है। आपने इतने लम्बे लॉकडाउन में खुद को सुरक्षित रखा है, चिंता करके उसे बेकार न जाने दें। अपना मनपसंद काम करें, आशावादी रहिए। अपनों से बात करें। उनके सम्पर्क में रहें।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Lockdown Extension News | Coronavirus/Corona Symptoms Latest Frequently Asked Questions (Faqs) In Hindi Update; India COVID Lockdown Extension


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2YpDd6A

No comments