Breaking News

खाना या उसकी पैकेजिंग से संक्रमण का खतरा नहीं लेकिन 5 बातों का ध्यान रखें, खाने का रंग बदले या गंध आए तो उसे न खाएं : एक्सपर्ट

क्या खाने की पैकेजिंग से कोरोनावायरस का खतरा है? इस सवाल पर लेडी इरविन कॉलेज, नई दिल्ली की न्यूट्रिशन एक्सपर्ट डॉ. पुलकित माथुर का कहना है, अब तक ऐसा कोई प्रमाण नहीं मिला है, जिससे ये साबित होता है कि खाने या पैकेजिंग से जुड़ी चीजों से कोरोनावायरस का संक्रमण फैलता है। लेकिन फिर भीएहतियात के तौर पर कुछ सावधानी बरतनी जरूरी हैं। डॉ. पुलकित माथुर बता रही हैं किन 5 बातों का ध्यान रखें-

1- घर आएं तो हाथ जरूर धोएं
जब भी आप बाजार या दुकान से घर आएं तो हाथों को 20 सेकंड तक साबुन-पानी से धोएं। इसे बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें।]

2- पैकेट को पानी से धोएं
फल-सब्जियों के साथ दूध-दही के पैकेट को पानी से अच्छी तरह से धोएं। यह तरीका आपको कई तरह के खतरों से बचाता है। अगर पैकेट को धो नहीं सकते तोउसे किसी डिसइंफेक्टेंट से साफ करें।

3- पैकेट को बंद ढक्कन वाले कूड़ेदान में ही डालें
चीजों का इस्तेमाल होने के बाद उनकी पैकेजिंग को बंद ढक्कन वाले कूड़ेदान में डालें। उसे इधर-उधर न फेकें।

4- खाने से बदबू आए या बदलाव दिखे तो न इस्तेमाल करें
बाहर से लाए गए तैयार खाने या डिब्बा बंद खाने को अच्छी तरह जांच लें। ध्यान रखें कि उसमें से बदबू न आ रही है और न ही उसमें किसी तरह का बदलाव दिख रहा हो। ऐसा होने पर उसे न खाएं।

5- बाहर से खाने को गर्म करके ही खाएं
जो भी बाहर से पका हुआ खाना मंगाते हैं उसे गर्म करके ही खाएं। खासकर मांसाहारी खाना जैसे अंडा, मांस और मछली।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Coronavirus Food Safety | Coronavirus Disease 2019 (COVID-19) Spread Via Food Packaging; All You Need To Know In Questions Answered


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2RMYWBj

No comments